NRC Full Form : NRC क्या है और इसका क्या मतलब है

आज की इस पोस्ट में हम NRC से जुड़े कुछ सवालों के बारे में बात करेंगे। जैसे कि NRC Full Form क्या है। NRC क्या है, NRC और NPR क्या है और NPR की Full Form क्या है। आइये जानते है इसके बारे में विस्तार से…

NRC की Full Form क्या है ( What Is The Full Form Of NRC )

NRC Full Form

NRC Ka Full Form National Register of Citizens है इसको Hindi में भारतीय राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर कहते है। देश के गृह मंत्री अमित शाह ने 2019 में इस बिल को पूरे भारत में लागू करने का ऐलान किया था लेकिन अभी तक यह देश में लागू नहीं हो पाया है।

इस बिल को संसद में लागू करने से पहले यह सिर्फ असम में ही लागू था लेकिन अमित शाह जी ने इस बिल को संसद में उठाया और पूरे देश में लागू करने की मांग की। NRC को अगर सिंपल भाषा में कहा जाए तो यह नागरिकों के जनसांख्यिकीय और बायोमेट्रिक विवरण रजिस्टर है जो लोगों के बारे जानकारी रखता है। इस रजिस्टर में उन सभी नागरिकों के नाम शामिल है जो वास्तविक रूप से भारत के नागरिक है।

NRC क्या है। ( What Is NRC In India In Hindi )

पिछले कुछ समय से NRC बिल को लेकर संसद में जो बात हुई थी। उसके बाद पूरे देश का माहौल बदल गया था। अगर आपको नहीं मालूम की NRC क्या है ( What Is NRC In Hindi ) या NRC को क्या कहते है तो आप लोगों को बता दें कि NRC एक भारतीय रजिस्टर होता है। जिसमें भारत के उन सभी नागरिकों के नाम शामिल होते है जो पूर्व रूप से भारतीय है।

NRC को पूरे देश में लागू करने का सबसे बड़ा कारण यह था कि इससे देश में गलत तरीके से घुसने वाले लोगों की पहचान हो सके जो कि भारतीय नहीं है। अभी तक इस बिल को पूरे देश में लागू नहीं किया गया है। यह सिर्फ असम में लागू है।

इस NRC में असम के उन सभी नागरिकों के नाम शामिल है जो 25 मार्च 1971 से पहले असम के नागरिक थे या फिर उन लोगों के पूर्वज जो 25 मार्च 1971 से पहले असम के नागरिक रह चुके है। आप लोगों को बता दें कि पूरे भारत में असम ही सिर्फ ऐसा अकेला राज्य है। जिसमें NRC लागू है।

असम के आलावा NRC और किसी अन्य राज्य में लागू नहीं है। हो सकता है आगे चलकर यह पूरे देश में लागू हो जाए। असम में पहली बार NRC सन 1971 में बनाया गया था। जब एनआरसी को लागू किया जा रहा था तो उस समय राज्य के सभी लोगों को इसमें शामिल किया गया था लेकिन एक बार फिर असम सरकार इस एनआरसी को Update करने के बारे में सोच रही है।

NRC को क्यों लागू किया गया ( What Is The Meaning Of NRC )

असम में NRC को लागू करने का सबसे बड़ा कारण यह था कि जो लोग किसी दुसरे देश से आकर असम में रह रहे है।  उनकी पहचान की जा सके और उन्हें उनके देश भेजा जाए। जब 1971 में भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध हुआ था तो कई बांग्लादेशी लोग गैर-कानूनी तरीके से भारत में घुस गए थे।

जिनकी संख्या 50 लाख के करीब थी। जब असम में जनसँख्या बढ़ने लगी तो कई तरह की सामजिक और आर्थिक परेशानियां होने लग गई। इसलिए NRC को असम में लागू किया। NRC के द्वारा यह पता चलता है कि कौन भारतीय नागरिक है और कौन नहीं।

यदि कोई भारत का नागरिक नहीं होता है तो उसे उसके देश भेज दिया जाता है और उसको भारत की नागरिकता नहीं दी जाती है और इस बिल के अनुसार जो लोग भारत के नागरिक होते है। उन्हें भारतीय नागरिक के सभी अधिकार दे दिए जाते है।

NRC में क्या Document चाहिए ( NRC Document List )

आपको NRC Full Form के लिए क्या-क्या डॉक्यूमेंट चाहिए। इसके लिए आपको 2 लिस्ट दिखा रहे है। “List A और List B” List A का मतलब यह है। आपके पास इन 14 Document में से कोई एक Document आपके नाम होना चाहिए। यदि आपके नाम से इनमें से कोई भी Document नहीं है तो आपके पास List B में से कोई  एक Document आपके नाम होना चाहिए।

NRC Document List “A”

  1. 1951 एनआरसी
  2. 24 मार्च 1971 तक निर्वाचन सूची में नाम
  3. ज़मीन और काश्तकारी रिकॉर्ड्स
  4. नागरिकता प्रमाण पत्र
  5. स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  6. शरणार्थी रजिस्ट्रेशन प्रमाण पत्र
  7. पासपोर्ट
  8. एलआईसी
  9. कोई सरकारी लाइसेंस या प्रमाण पत्र
  10. सरकारी सेवा या नौकरी का प्रमाण पत्र
  11. बैंक या पोस्ट ऑफ़िस खाता
  12. जन्म प्रमाण पत्र
  13. बोर्ड या विश्वविद्यालय शैक्षणिक प्रमाण पत्र
  14. अदालती रिकॉर्ड या प्रक्रियाँ

NRC Document List “B”

  1. जन्म प्रमाण पत्र
  2. ज़मीन के काग़जात
  3. बोर्ड या विश्वविद्यालय प्रमाण पत्र
  4. बैंक, एलआईसी या पोस्ट ऑफ़िस रिकॉर्ड्स
  5. सर्कल ऑफ़िसर या जीपी सचिव प्रमाण पत्र (शादीशुदा महिला के लिए)
  6. निर्वाचन सूची में नाम
  7. राशन कार्ड
  8. दूसरे कोई भी क़ानूनी तौर पर मान्य दस्तावेज़

NRC से होने वाली परेशानियां ( NRC Full Form In Hindi )

  • जब NRC को देश में लागू करने की बात हो रही थी तो कई लोगों को लगने लगा कि जिन लोगों के नाम इसलिस्ट में नहीं होंगे। वह किसी भी देश के नागरिक नहीं रहेंगे। इस तरह हिंसा की स्थिति देश में बनती हुई दिखाई दी।
  • यदि किसी व्यक्ति की गलती से नागरिकता चली जाती है तो वह किस देश का नागरिक कहलायेगा।

इस तरह NRC को लागू करने के दौरान कई तरह की परेशानियां होने लगी।

यह भी पढ़ें –

Conclusion

आज की इस पोस्ट में हमनें आपको NRC से जुड़े सभी सवालों के बारे में बताया जैसे कि NRC Full Form क्या है। NRC के लिए किन-किन Document List की जरूरत पढ़ती है, NRC क्या है और NRC को क्यों लागू किया जा रहा है।

दोस्तों अगर NRC को ध्यान से देखें तो यह बिल देश और देश के सभी नागरिकों के लिए एक अच्छा विकल्प है। यदि यह बिल सम्पूर्व देश में लागू हो जाता है तो सामाजिक और आर्थिक रूप से जुड़ी कई समस्याएं हल हो जाएगी।

वैसे NRC Law के बारे में आपकी क्या राय है। आप क्या चाहते हो। देश में NRC लागू होना चाहिए या नहीं। Comment Box में अपनी राय हमें बताएं और अपने दोस्तों के साथ इस पोस्ट को शेयर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here